Home >>> धर्म (page 2)

धर्म

सेहत के लिए अच्छी आदतें – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

Last updated Jul 13, 2018 जीवन में तंदुरुस्त और तरोताजा रहने के लिए आपको कुछ छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखना चाहिए। जैसे कि कहीं भी बाहर से घर आने के बाद, खाना बनाने से पहले, खाने से पहले, खाने के बाद और बाथरूम का उपयोग करने के बाद हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोएं। घर में सफाई पर खास ध्यान दें, विशेषकर रसोई तथा शौचालयों पर। पानी को कहीं भी इकट्ठा न होने दें। सिंक, वाश बेसिन आदि ज

Read More »

उपार्जन का महत्त्व – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

Last updated Jul 13, 2018 श्रीराम शर्मा भगवान बुद्ध ने अंतिम समय यही कहा था कि मैं बार-बार जन्म लूंगा और बार-बार मरूंगा, ताकि संसार की अधिक समय तक अधिकतम सेवा कर सकूं। मुक्ति के बारे में पूछे जाने पर उनका उत्तर था कि जब संसार के समस्त प्राणी मुक्त …

Read More »

शिव गुफा डैहर – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

Last updated Jul 13, 2018 हिमाचल प्रदेश में देवी-देवताओं का वास है, जिसे प्रमाणित करने हेतु कई ऐसे प्राचीन मंदिर, कलाकृतियां और सिद्ध स्थल देवताओं के ऊंचे पहाड़ों में वास करने की पुष्टि करते आ रहे हैं। जिला मंडी के सुंदरनगर उपमंडल के सेरीकोठी मार्ग पर सलापड़ से 12 किमी. …

Read More »

निष्कलंक महादेव – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

Last updated Jul 13, 2018 गुजरात के भावनगर में कोलियाक तट से तीन किलोमीटर अंदर अरब सागर में स्थित है निष्कलंक महादेव। यहां पर अरब सागर की लहरें रोज शिवलिंगों का जलाभिषेक करती हैं। लोग पानी में पैदल चलकर ही इस मंदिर में दर्शन करने जाते है। इसके लिए उन्हें ज्वार के उतरने का इंतजार करना पड़ता है। भारी ज्वार के वक्त केवल मंदिर की पताका और खंभा ही नजर आता है। जिसे देखकर कोई अंदाजा भ

Read More »

सत्य की खोज – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

Last updated Jul 13, 2018 श्रीश्री रवि शंकर सत्य की खोज में आमतौर पर विज्ञान और आध्यात्म को एक दूसरे से भिन्न माना जाता है। दोनों का ही आधार स्तंभ है जिज्ञासा। आधुनिक विज्ञान वस्तुनिष्ठ विश्लेषण का तरीका अपनाता है और आध्यात्म आत्मपरक विश्लेषण करता है। जगत में यह क्या है। इन प्रश्नों के साथ विज्ञान बाहरी जगत को जानने में रत रहता है। जबकि आध्यात्म की शुरुआत होती ‘

Read More »

श्री विश्वकर्मा पुराण – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

Last updated Jul 13, 2018 सूतजी बोले, हे ऋषियों! इस प्रकार का अति उत्तम तीर्थ सब तीर्थ में महान होकर सब तीर्थों के राजा समान और तीर्थों के स्तंभ समान हैं और इससे ही स्तंभ तीर्थ इस प्रकार का उसका नाम सार्थक है। कार्तिक द्वारा रचा हुआ और नारदजी द्वारा …

Read More »

विष्णु पुराण – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

भगवान का स्मरण करते रहने के कारण उनकी देह से टकरा-टकरा कर दिग्गजों के दांत टूट गए, तब उनके हाथियों को हतप्रभ देखकर प्रह्लाद ने अपने पिता  से कहा कि दिग्गजों के बज्र जैसे दांतों के टूटने में मेरा कोई बल नहीं है, यह केवल भगवान के विपत्ति और क्लेश नाशक स्मरण का प्रभाव ही है… सर्पो ने कहा, हे दैत्यराज! इसे काटने से हमारी दाढ़े विशीर्ण हो गई। मणियों में दरार पड़ गई, फणों में दर्द

Read More »

किसी अजूबे से कम नहीं हैं रामायण के पात्र – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

Last updated Jul 13, 2018 बालि के बारे में यह कहा जाता है कि यदि कोई उसे द्वंद्व के लिए ललकारे तो वह तुरंत तैयार हो जाता था। दुंदुभि के बड़े भाई मायावी की बालि से किसी स्त्री को लेकर शत्रुता थी। मायावी एक रात किष्किंधा आया और बालि को द्वंद्व को ललकारा, बालि उस असुर के पीछे भागा… -गतांक से आगे… माया नामक असुर स्त्री के दो पुत्र थे मायावी तथा दुंदुभि। दुंदुभि महिष रूपी

Read More »

विभिन्न प्रयोजनों को भिन्न देवता पूजा – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

Last updated Jul 13, 2018 उदार बुद्धि वाले मोक्ष इच्छुक पुरुष को चाहे वो निष्काम हो या साकाम, ध्यानपूर्वक भगवान पुरुषोत्त की साधना, उपासना करनी चाहिए। अन्य प्रकार की आकांक्षाओं की पूर्ति देवों की पूजा करने से होती है… -गतांक से आगे… धर्मार्थ उत्तमश्लोकं तंतु तन्वन पितृन यजेत। रक्षाकामः पुण्यजनानोजस्कामो …

Read More »

पूर्ण सद्गुरु के चरणों में – Divya Himachal: No. 1 in Himachal news – News – Hindi news – Himachal news – latest Himachal news..

Last updated Jul 13, 2018 बाबा हरदेव हम अकसर त्याग और भोग को उल्टा समझते हैं कि त्याग और भोग आपस में दुश्मन हैं, मगर उपनिषदों का एक बड़ा रहस्यपूर्ण र् और बड़ा ही अपूर्व वचन है-‘तथेन त्यक्तेन भुजीथः’- जिन्होंने छोड़ा उन्होंने भोगा, जिसने त्याग किया उसने पाया यानी त्याग ही भोग है या त्याग में ही भोग है। अब उपनिषद् कौन से भोग की ओर इशारा कर रहे हैं? असल में यह प्रेम में जो त्याग

Read More »
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com