Home >>> सम्पादकीय

सम्पादकीय

“अप्रैल फूल” किसी को कहने से पहले इसकी वास्तविक सत्यता जरुर जान लें कि पावन महीने की शुरुआत को मूर्खता दिवस कह रहे हो !!

पता भी है क्यों कहते है अप्रैल फूल (अप्रैल फूल का अर्थ है – मूर्खता दिवस).?? ये नाम अंग्रेजों की देन है… कैसे समझें “अप्रैल फूल” का मतलब बड़े दिनों से बिना सोचे समझे चल रहा है अप्रैल फूल, अप्रैल फूल ??? इसका मतलब क्या है.?? दरअसल जब अंग्रेजो द्वारा …

Read More »

पूर्व रक्षा मंत्री और गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर परिकर जी कैंसर से जूझ रहे हैं, अस्पताल के विस्तर से उनका यह मार्मिक संदेश

“मैंने राजनैतिक क्षेत्र में सफलता के अनेक शिखरों को छुआ ::: दूसरों के नजरिए में मेरा जीवन और यश एक दूसरे के पर्याय बन चुके हैं :::;::; फिर भी मेरे काम के अतिरिक्त अगर किसी आनंद की बात हो तो शायद ही मुझे कभी प्राप्त हुआ ::: आखिर क्यो ? …

Read More »

आये दिन आता है भूकम्प दहल्ता है सोनभद्र -सिंगरौली :- मानक के विपरीत ब्लास्ट करता है BGR कम्पनी

नार्दन कॉल फील्डस लिमिटेड सिंगरौलि के कोल माइनस में ओबी बर्डन का काम एक निजी संस्था BGR कम्पनी बड़े पैमाने पर कर रही है जो नार्दन कोल फ़ील्ड्स के अधिकांश परियोजनाओ में ओबी बर्डन का काम ले रखी है जिसमें बड़े बड़े पत्थरों – चट्टानों को तोड़ने के लिये ड्रिल …

Read More »
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com